Loading...

ब्लॉग

घर   ब्लॉग

-January 29, 2022

World Leprosy Day: कुष्ठ रोग क्या होता है, जानें- लक्षण और बचाव के उपाय

विश्व कुष्ठ दिवस (World Leprosy Day) हर साल दुनिया भर में 30 जनवरी को मनाया जाता है। वहीं, कुष्ठ दिवस लोगों के बीच कुष्ठ रोग (leprosy) को लेकर जागरूकता फैलाने और इसकी रोकथाम (Prevention) करने के लिए मनाया जाता है। गौरतलब है कि लेप्रोसी (Leprosy) को लेकर लोगों में कई प्रकार के भ्रम फैले हुए हैं जैसे- कुष्ठ रोगी के छूने या हाथ मिलाने, साथ में उठने-बैठने से कुष्ठ रोग होता है। इसके अलावा, कई लोग अभी भी इस रोग को लाइलाज यानि ठीक नहीं हो सकता है यह मानते हैं, लेकिन कुष्ठ रोग का इलाज (Treatment Of Leprosy) आसानी से किया जा सकता है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि फ्रांस के समाजसेवी राउल फोलेरो द्वारा साल 1954 में सबसे पहले कुष्ठ रोग दिवस (World Leprosy Day) मनाया गया था। इस दिन को मनाने का मकसद कुष्ठ रोग के बारे में लोगों के बीच जागरूकता फैलाना था।

कुष्ठ रोग क्या होता है? (What is Leprosy?)

कुष्ठ रोग को हेन्सन रोग (Hansen's Disease) भी कहा जाता है। वहीं, किसी भी व्यक्ति में कुष्ठ रोग माइक्रोवेक्टीरियमलैप्री नामक जीवाणु के कारण होता है। गौरतलब है कि कुष्ठ रोग आनुवांशिक एवं छुआछूत से फैलने वाला रोग नहीं है। यानि कुष्ठ रोगी के साथ खाने, उठने बैठने से कुष्ठ रोग नहीं फैलता है। समय से सही जांच और उपचार मिलने पर व्यक्ति को दिव्यांगता (disability) से भी बचाया जा सकता है।

इसके अलावा, आप 88569-88569 पर #BasEkCall कर Medpho के डॉक्टर से Free सलाह ले सकते हैं।

Leprosy

कुष्ठ रोग के लक्षण (Symptoms of Leprosy)

अगर किसी व्यक्ति को कुष्ठ रोग हो जाता है, तो उसमें कई तरह के लक्षण दिखाई देते हैं-

  • चेहरे या कान के आस-पास गांठें या सूजन, जिसमें दर्द न हो।
  • त्वचा पर हल्के रंग के धब्बे, जो चपटे और फीके रंग के दिखाई देते हैं।
  • पैरों के तलुओं पर ऐसा घाव जिसमें दर्द न हो।
  • मांसपेशियां कमज़ोर हो जाती हैं।
  • छाती पर बड़ा, अजीब से रंग का घाव या निशान हो जाता है।
  • आंखों में समस्याएं हो जाती हैं, जिनसे अंधापन की नौबत भी आ जाती है।
  • हथेली और तलवों पर सुन्नपन होना।
  • कुष्ठ रोग के लक्षण दिखने में 2 से 5 वर्ष तक का समय लग सकता है।
  • हाथों और पैरों का अपंग होना।

कुष्ठ रोग से बचाव के लिए क्या करें? (Prevention of Leprosy)

कुष्ठ रोग एक ऐसी समस्या है, जिस पर यदि समय रहते ध्यान चला जाये तो इस पर काफी हद तक नियंत्रण पाया जा सकता है। ऐसे में इस रोग से बचाव के लिए निम्न बातों पर ध्यान दें-

  • लक्षणों पर हमेशा नजर बनाएं रखें।
  • चोट से बचें और घाव को साफ रखें।
  • ज्यादा समय तक कुष्ठ रोगी के संपर्क में न रहें।
  • एंटीबायोटिक दवाओं से भी कुष्ठ रोग का इलाज संभव है।
  • कुष्ठ रोग के इलाज के लिए मल्टीड्रग थेरेपी तैयार की गई। यह थेरेपी पूरी दुनिया में फ्री में उपलब्ध है।

नोट- बच्चों में कुष्ठ रोग की संभावना व्यस्क व्यक्ति से अधिक होती है इसलिए बच्चों को हमेशा कुष्ठ रोगी से दूर रखें।

इसके अलावा, आप 88569-88569 पर #BasEkCall कर Medpho के डॉक्टर से Free सलाह ले सकते हैं।

अकसर पूछे जाने वाले सवाल (FAQs)

1.कुष्ठ रोग की पहचान क्या है?

कमजोर मांसपेशियां, त्वचा पर दानेदार उभार, उंगलियों के पोरों का सुन्न होना और त्वचा पर घाव लेप्रोसी के प्रमुख लक्षण हैं। इस रोग से संक्रमित व्यक्ति के जख्म आसानी से नहीं ठीक होते हैं।

Leprosy day

2.कुष्ठ रोग में क्या खाएं क्या ना खाएं?

कुष्ठ रोग के मरीज को विटामिन ए से भरपूर चीजें जैसे गाजर, चुकंदर, पालक, पत्तागोभी और शकरकंद अपनी डाइट में शामिल करनी चाहिए। इसके अलावा रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए विटामिन C से भरपूर चीजें खानी चाहिए।

इसके अलावा, आप 88569-88569 पर #BasEkCall कर Medpho के डॉक्टर से Free सलाह ले सकते हैं।

3.कुष्ठ रोग के प्राथमिक उपचार

कुष्ठ रोग का उपचार एमडीटी दवा द्वारा संभव है। एक पत्ते में 28 दिन की दवाइयां होती हैं। एक से 5 धब्बों का 6 महीने का उपचार होता है। 5 से अधिक धब्बे होने पर 12 महीने का इलाज चलता है।

यदि आप कुष्ठ रोग का कोई भी लक्षण महसूस कर रहे हैं, तो देर ना करें तुरंत 88569-88569 पर #BasEkCall करें और Medpho के डॉक्टर से FREE परामर्श लें।