Loading...

ब्लॉग

घर   ब्लॉग

-December 06, 2021

नहीं जानते होंगे कैंसर के ये 5 खतरनाक लक्षण

कैंसर (cancer) का नाम सुनते ही दिमाग एक अलग दिशा में सोचने लगता है। दिल और दिमाग में डर का माहौल बन जाता है और हम ये भी सोचने लगते हैं कि कैंसर एक लाइलाज बीमारी है इसका कोई इलाज नहीं है। लेकिन आप गलत सोचते हैं, क्योंकि सही जानकारी के साथ अगर आपने सही समय पर इलाज शुरू करवा लिया तो कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से भी आसानी से लड़ा (cancer treatment) जा सकता है। 

कैंसर क्या है? (What is Cancer?)

मानव शरीर कई सारी कोशिकाओं यानि सेल्स से मिलकर बना होता है। इन कोशिकाओं का विभाजन होना एक आम प्रक्रिया है, इसपर शरीर का पूरा कंट्रोल रहता है। लेकिन जब शरीर किसी खास अंग की कोशिकाओं पर अपना कंट्रोल खो देता है तो कैंसर (What is Cancer?) की स्थिति पैदा होती है क्योंकि इस दौरान कोशिकाएं असमान्य रूप से बढ़ने लगती हैं। जब ये कोशिकाएं बढ़ती हैं तो इसमें ट्यूमर गांठ (cancer symptoms) बनने लगते हैं। 

कैंसर के प्रकार (Types of Cancer)

डॉक्टर्स के अनुसार कैंसर  (cancer) 200 से भी अधिक प्रकार (Types of Cancer) के होते हैं और इनके लक्षणों में भी काफी अंतर होता है। इसलिए हम आपको कैंसर के वो प्रकार बताएंगे जिसके शिकार लोग ज्यादा होते हैं जैसे- 

1. सर्वाइकल कैंसर (survival cancer)
2. ब्लड कैंसर (blood cancer)
3. स्किन कैंसर (skin cancer)
4. ब्रेन कैंसर (brain cancer)
5. बोन कैंसर (bone cancer)
6. प्रोस्टेट कैंसर (prostate cancer)
7. पैनक्रियाटिक कैंसर (pancreatic cancer)
8. लंग कैंसर (lung cancer)

अगर आप कैंसर से जुड़ी किसी भी समस्या का सामना कर रहे हैं तो Medpho हेल्पलाइन नंबर 88569-88569 #BasEkCall करके डॉक्टर से FREE सलाह ले सकते हैं।  

कैंसर होने के कारण (What Causes Cancer)

कैंसर किस वजह से होता है इसके बारे में अभी तक कोई ठोस जानकारी नहीं है लेकिन कुछ ऐसे कारक ज़रूर हैं जिनकी वजह से कैंसर होने का खतरा काफी हद तक बढ़ जाता है, जिसे रोका जा सकता है। इसके अलावा अनुवांशिक कारणों से भी कैंसर रोग होता है जिसपर लोगों का बस नहीं चलता है। तो चलिए जानते हैं कैंसर होने (5 causes of cancer) के पीछे क्या-क्या कारण हैं- 

1.धूम्रपान

कैंसर होने के सबसे बड़े कारणों की बात करें तो वो है धूम्रपान। आजकल लोगों में धूम्रपान करना शौक बन गया है कुछ लोग कूल दिखने के लिए धूम्रपान करते हैं तो कुछ लोग लत के कारण। लेकिन वो ये नहीं जानते कि इस तरह से धूम्रपान और तंबाकू चबाने की लत उन्हे कैंसर की तरफ ढ़केल रही है। नशीले पदार्थों में निकोटीन पाया जाता है जो शरीर के किसी भी अंग में कैंसर (What Causes Cancer) पैदा कर सकता है। आमतौर पर धूम्रपान से मुंह का कैंसर, फेफड़ों का कैंसर, एलिमेंटरी ट्रैक्ट और पैंक्रियाटिक कैंसर होने का खतरा रहता है। 

2.अनुवांशिकता

कैंसर (cancer) होने का एक कारण अनुवाशिंक भी है। ज्यादातर लोग जीन की वजह से इस रोग के शिकार हो जाते हैं। अगर आपके परिवार में कैंसर की कोई हिस्ट्री रही है तो आप भी बेहद आसानी से इस खतरनाक बीमारी के शिकार हो सकते हैं।  

3.भोजन 

शायद आपको जानकर हैरानी हो लेकिन भोजन से भी कैंसर होने की संभावना (cure for cancer) रहती है। आजकल ज्यादातर फल और सब्जियां कीटनाशकों से दूषित होती हैं, जिनके सेवन से शरीर पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इसके अलावा कल-कारखानों से निकलने वाले खराब पदार्थों की वजह से जल दूषित हो जाता है  जो शरीर के लिए काफी नुकसानदायक होता है। 

Cancer

4.वायरस 

वायरस के दुष्प्रभाव के कारण भी कैंसर होने की संभावना रहती है। हेपेटाइटिस बी और सी वायरस लिवर कैंसर को जन्म देते हैं। इसके अलावा ह्यूमन पैपिलोमा वायरस 99.9% मामलों में सर्वाइकल कैंसर (What Causes Cancer) में बदल  जाते हैं। 

5.मोटापा

मोटापा कई बीमारियों को जन्म देता है जिनमें से कैंसर भी एक है। अगर आपके शरीर का भार आपकी उम्र से अधिक है तो इससे शरीर में कई तरह की बीमारियां हो जाती हैं और उम्र बढ़ने के साथ-साथ कैंसर होने का भी खतरा रहता है। 

कैंसर के लक्षण (Cancer Symptoms)

कैंसर के लक्षणों (cancer ke lakshan) का अंदाज़ा उनके प्रकार पर निर्भर करता है। अलग-अलग प्रकार के कैंसर में रोगी अलग-अलग लक्षणों को महसूस करता है। लेकिन कुछ संकेत ऐसे हैं जिससे आप कैंसर का अंदाज़ा लगा सकते हैं जैसे- 

1.थकान

वैसे तो थकान कई कारणों से हो जाता है लेकिन अगर आप बिना किसी मेहनत के ही थकान महसूस कर रहे हैं तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। क्योंकि बिना किसी कारण थकान महसूस करना कैंसर के लक्षण (Cancer Symptoms) हो सकते हैं। 

2.आंत से जुड़ी परेशानी

अगर कोई व्यक्ति कैंसर रोग से पीड़ित है या उसके शरीर का कोई भाग कैंसर का रूप ले रहा है तो इस दौरान पीड़ित व्यक्ति को आंतों से जुड़ी दिक्कते होती हैं। 

3.पेशाब में दिक्कतें

बार-बार यूरिन इंफेक्शन होना या पेशाब से जुड़ी दिक्कतें होना (about cancer) भी कैंसर के ही लक्षण हैं। कई बार तो पेशाब के रास्ते खून भी आने लगता है। इस स्थिति को बिल्कुल भी नज़रअंदाज़ ना करें।

4.वजन कम होना

अचानक से वजन कम होना कई सारी बीमारियों के लक्षण (cancer hospital) हो सकते हैं जिनमें से कैंसर भी एक है। अगर आपका वजन बिना कारण ही तेज़ी से कम हो रहा है तो समझ जाएं कि आपके शरीर में कोई गंभीर बीमारी पैदा हो रही है। इस स्थिति में जल्द से जल्द एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें। 

अगर आप डायबिटीज से जुड़ी किसी भी समस्या का सामना कर रहे हैं तो Medpho हेल्पलाइन नंबर 88569-88569 #BasEkCall करके डॉक्टर से FREE सलाह ले सकते हैं। 

5.खांसी रहना

लंबे समय तक खांसी रहना भी कैंसर की तरफ इशारा  (Cancer Symptoms) करता है। इसके अलावा खांसी के साथ बलगम और खून आना कैंसर की सबसे गंभीर स्थिति होती है। 

कैंसर का इलाज (Cancer Treatment)                            

कुछ लोगों का मानना है कि कैंसर एक लाइलाज बीमारी है, एक कैंसर पीड़ित व्यक्ति का इलाज संभव नहीं है। लेकिन आजकल के चिकित्सा विज्ञान ने काफी तरक्की कर ली है जिससे हर प्रकार की लाइलाज बीमारी का करना संभव हो गया है। अगर कोई व्यक्ति कैंसर पीड़ित है तो उसका इलाज नीचे दिए गए तरीकों से किया जाता है।

1.केमो आईडी थेरेपी

केमो आईडी थेरेपी का इस्तेमाल रोगी के अनुसार किया जाता है। हर व्यक्ति का शरीर अलग होता है इसलिए डॉक्टर रोगी का शरीर, उम्र और शहनशक्ति के अनुसार ही इलाज करते हैं। इस थेरेपी  (Cancer Treatment) की मदद से रोगी के कैंसर की कोशिकाओं को जांच के लिए लिया जाता है और इनका इस्तेमाल स्टेम सेल के रुप में किया जाता हैं। इतना ही नहीं इसके बाद केमो ड्रग्स भी इसकी जांच करते हैं  उसके बाद जो दवा बनती है उसे मरीज को दिया जाता है। 

2.रेडिएशन थेरेपी

कैंसर के इलाज (cancer therapy) के लिए रेडिएशन थेरेपी को वरदान माना गया है। हालांकि ये थोड़ा जोखिम भरा होता है। इस थेरेपी को जोखिम भरा इसलिए कहा जाता है क्योंकि यह कैंसर की कोशिकाओं को प्रभावित करने के साथ ही शरीर की स्वस्थ कोशिकाओं को भी नुकसान पहुंचा देती है। लेकिन ऐसे केस बहुत कम देखे गए हैं। कैंसर की गंभीर स्थिति में रेडिएशन थेरेपी ही प्रभावी है, इसकी मदद से शरीर के अंदर मौजूद कैंसर पैदा करने वाली कोशिकाओं को तोड़ा जाता है।  

3.कीमोथेरपी

कीमोथेरपी के जरिए दवा देकर कैंसर  (Cancer Treatment) को रोकने की कोशिश की जाती है, कुछ लोग इसे काफी दर्दनाक थेरेपी कहते हैं लेकिन आजकल इसके लिए सूई की जगह टैब्लेट्स का इस्तेमाल किया जाता है।

Cancer

4.हॉर्मोन थेरपी

हॉर्मोन थेरेपी की मदद से किसी खास प्रकार के हार्मोन (cancer hospital) को शरीर के अंदर किया जाता है, जिससे शरीर के भीतर मोजूद कैंसर को बढ़ने से रोका जा सके।  

5.सर्जरी

सर्जरी कैंसर का सबसे आम इलाज है। इस प्रक्रिया के जरिए कैंसर के ट्यूमर को ऑपरेशन  (Cancer Treatment) की मदद से बाहर निकाला जाता है जिससे कैंसर की कोशिकाएं संक्रमण पैदा ना कर सकें। 

अगर आप कैंसर से जुड़ी किसी भी समस्या का सामना कर रहे हैं तो Medpho हेल्पलाइन नंबर 88569-88569 #BasEkCall करके डॉक्टर से FREE सलाह ले सकते हैं।