Loading...

ब्लॉग

घर   ब्लॉग

Juli Kumari-September 21, 2022

गर्भाशय निकलने के बाद भूलकर भी ना खाएं ये 3 चीज़ें

hysterectomy

महिलाओं को होने वाली समस्या हिस्टेरेक्टॉमी (hysterectomy meaning in hindi) एक प्रकार की सर्जरी है, इस सर्जरी में महिला के गर्भाशय को शरीर से निकाला जाता है। ये इलाज की एक प्रक्रिया मानी जाती है जिससे प्रजनन प्रणाली में होने वाली बीमारियों का इलाज आसानी से किया जाता है। आपको बता दें कि जब किसी महिला के प्रजनन प्रणाली में कोई समस्या हो जाए और वो किसी भी तरह की दवाइयों और नॉन-सर्जिकल तरीकों से ठीक नहीं होता है तब डॉक्टर हिस्टेरेक्टॉमी का सुझाव देते हैं। इसके अलावा डॉक्टर्स कुछ हिस्टेरेक्टॉमी डाइट (diet after hysterectomy) भी देते हैं जिसे सर्जरी के बाद फॉलो करना ज़रूरी माना जाता है ये जल्दी रिकवरी में मदद करते हैं। 

गर्भाशय निकलने के बाद क्या खाएं? (Diet after hysterectomy surgery)

गर्भाशय को हटाने के बाद, स्वस्थ जीवनशैली को बनाए रखना बहुत जरूरी होता है। क्योंकि सर्जरी के बाद अगर खानपान (after uterus removal diet) का ध्यान ना रखा जाए तो कई सारी बीमारियां जैसे इरिटेबल बाउल सिंड्रोम, मोटापा, उच्च रक्तचाप, पेट दर्द, गैस, सूजन, उच्च कोलेस्ट्रॉल और अनियमित दिल की धड़कन का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए नीचे दिए गए डाइट को फॉलो करें- 

1. दूध से बने पदार्थ- दूध और दूध से बने पदार्थ उपचार में मदद करते हैं। अगर आपको कब्ज की समस्या नहीं है तो आपको दूध और दूध से बने पदार्थ जैसे दूध, मक्खन, पनीर और दही का सेवन करना चाहिए। लेकिन इसका सेवन कम मात्रा में करना है क्योंकि इससे कब्ज हो सकता है।

आयुष्मान योजना के तहत गर्भाशय की FREE सर्जरी करवाने के लिए मेडफो हेल्पलाइन नंबर 88569-88569 पर कॉल करें या नीचे दिए गए फॉर्म को भरें। 

 

2. ताजे फल और सब्जियां- सर्जरी के बाद खानपान (after uterus removal diet) का ध्यान रखना है तो ताजे फल और सब्जियां सेहत के लिए काफी फायदेमंद होती हैं ये आपको सूजन और गैस से बचने में मदद करेंगे और आप जल्दी रिकवर होंगे। 

3. हल्का भोजन- सर्जरी के बाद शुरुआती दिनों में हमें कफी सादा और हल्का भोजन करना चाहिए। जिसमें आप दाल का सूप, खिचड़ी, दलिया, मूंग दाल, सब्जी का सूप, उबली हुई सब्जियां, ताजा जूस और कम वसा वाले डेयरी उत्पादों का सेवन कर सकते हैं, क्योंकि शुरूआती दिनों में हल्का भोजन करने से पाचन क्रिया मजबूत रहती है तभी डॉक्टर इसे हिस्टेरेक्टॉमी डाइट (hysterectomy diet) में शामिल करते हैं। 

4. तरल पदार्थ-  स्वस्थ रहने के लिए तरल पदार्थों का सेवन करना बहुत ज़रूर है। गर्भाशय की सर्जरी के बाद डॉक्टर कम से कम 3 से 4 लीटर पानी पीने की सलाह देते हैं। इसके अलावा आप सूप, जूस, स्मूदी आदि का भी सेवन कर सकते हैं। 

5. प्रोटीन और वसा- हिस्टेरेक्टॉमी डाइट (hysterectomy diet) में प्रोटीन और वसा वाले खाद्य पदार्थ भी शामिल हैं। सर्जरी के बाद, आपके शरीर को अच्छे वसा (पालक, अलसी, जैतून का तेल) आदि की जरूरत होती है। इसके अलावा प्रोटीन के लिए कम वसा वाले डेयरी उत्पाद, दाल, और मछली आदि को अच्छा विकल्प माना जाता है। 

hysterectomy-diet

गर्भाशय की सर्जरी के बाद क्या ना खाएं? (foods to avoid after hysterectomy)

हिस्टेरेक्टॉमी के बाद डॉक्टर कुछ चीज़ों से परहेज की सलाह देते हैं जैसे-

1. पाचन खराब करने वाले भोजन - सर्जरी के बाद गैस पैदा करने वाले भोजन जैसे - फूलगोभी, गोभी, शलजम, ब्रोकोली, प्याज और शराब आदि से बचने की सलाह दी जाती है, क्योंकि ये रिकवरी में बाधक बन सकते हैं। 

2. मीठे पदार्थ- सर्जरी के बाद मीठे पदार्थों के सेवन से बचना चाहिए ये घाव यानि टांके आदि को बढ़ा देते हैं। इसलिए सर्जरी के बाद पेस्ट्री, केक, जूस, डोनट्स, पुडिंग का सेवन ना करें। 

3. तले-भुने पदार्थ- अधिक तेल-मसाले, तले हुए भोजन और बाहर का खाना खाने से भी बचना चाहिए। 

आयुष्मान योजना के तहत गर्भाशय की FREE सर्जरी करवाने के लिए मेडफो हेल्पलाइन नंबर 88569-88569 पर कॉल करें या नीचे दिए गए फॉर्म को भरें। 

 

ब्लॉग में दी गई तथ्यों की पुष्टि 

डायटिशियन वरलीन कौर,

(डायबिटीज एजुकेटर  फूड एंड न्यूट्रिशन)

Frequently Asked Question ( FAQs)

1. हिस्टेरेक्टॉमी के बाद क्या नहीं करना चाहिए?

गर्भाशय निकलने के बाद मरीज को करीब 6 से 7 हफ्ते सेक्स ना करने की सलाह दी जाती है, क्योंकि ये जल्दी रिकवरी और घाव को ठीक करने में मदद करेगा।

2. क्या बच्चेदानी दोबारा लग सकती है?

डॉक्टर्स का मानना है कि अलग-अलग महिला का रिकवरी टाइम अलग-अलग होता है, कुछ महिलाएं जल्दी स्वस्थ हो जाती हैं तो कुछ को पूरी तरह से ठीक होने में समय लगता है, लेकिन आमतौर पर महिलाएं 6 हफ्ते के भीतर ठीक हो जाती हैं।

3. हिस्टेरेक्टॉमी के नुकसान क्या हैं?

हिस्टेरेक्टॉमी से आमतौर पर प्रजनन क्षमता को नुकसान पहुंचता है। इसके अलावा एक बार गर्भाशय की सर्जरी करवाने के बाद आप गर्भधारण नहीं कर पाएंगी। 

आयुष्मान योजना के तहत गर्भाशय की FREE सर्जरी करवाने के लिए मेडफो हेल्पलाइन नंबर 88569-88569 पर कॉल करें या नीचे दिए गए फॉर्म को भरें।